Ya ilahi har jagah dua lyrics in Hindi

Ya ilahi har jagah dua lyrics in Hindi

“या इलाही, हर जगह #तेरी_अत़ा का साथ हो!

“जब पडे मुश्कील शहे #मुश्कील_कुशा का साथ हो!!

“या इलाही, भूल जाऊं #नज़आ की तकलीफ को!
“शादीए दीदार #ह़ुस्ने_मुस्त़फ़ा का साथ हो!!

“या इलाही, #गौरे_तीरह की जब आए सख़्त रात!
“उनके प्यारे मुंह की सुबह़े जां #फिज़ा का साथ हो!!

“या इलाही, जब पड़े मह़शर मे #शोरे_दारो_गीर!
“अम्न देने वाले प्यारे #पेशवा का साथ हो!!

“या इलाही, जब ज़ुबाने बाहर आएँ #प्यास से!
“साहीबे #कौसर शहे जुदो अत़ा का साथ हो!!

“या इलाही, सर्द मेहरी पे हो जब #ख़ुर्शीदे_ह़श्र!
“सय्यदे बे साया के #ज़िल्ले_लिवा का साथ हो!!

“या इलाही, गर्मी ए महशर से जब भड़कें #बदन!
“दामने मह़बूब की ठंडी #ठंडी_हवा का साथ हो!!

“या इलाही, #नामा_ए_आमाल जब खुलने लगें!
“ऐब पोशे ख़ल्क़ #सत्तारे_ख़त़ा का साथ हो!!

“या इलाही, जब बहें आंखे #ह़िसाबे_जुर्म में!
“उन तबस्सुम रेज़ #होठों की दुआ का साथ हो!!

“या इलाही, जब हिसाबे #ख़ंदा_ए_बेजा रुलाए!
“चश्म गीरयाने #शफीए_मुर्तजा का साथ हो!!

“या इलाही, रंग लाएँ जब मेरी #बेबाकीयाँ!
“उनकी नीची नीची नज़रों की #ह़या का साथ हो!!

“या इलाही, जब चलूं तारीक़ राहे #पुल_स़िरात!
“आफताबे हाशमी #नूरुल_हुदा का। साथ हो!!

“या इलाही, जब #सरे_शमशीर पर चलना पडे!
“रब्बी सल्लीम, कहने वाले #ग़मज़ुदा का साथ हो!!

“या इलाही, जो। #दुआ_ए_नेक मै तुझ से करूं!
“क़ुदसीयों के लब से #आमीन रब्बना का साथ हो!!

“या इलाही, जब #रज़ा ख़्वाबे गीरां से सर उठाए!
“दौलते बेदार #इश्क़े_मुस्त़फ़ा का साथ हो!!

Leave a Comment