वाह जी वाह Wah Ji Waah Lyrics in Hindi – Gurnazar

0
48

वाह जी वाह Wah Ji Waah Lyrics in Hindi – Gurnazar

दिल बहला कर जी मुँह मोड़ने का
दिल बहला कर जी मुँह मोड़ने का

वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

कमाल है कमाल है
तुम्हारी वी कमाल है
कल होर कोई नाल सी
अज्ज होर कोई नाल है

कमाल है कमाल है
तुम्हारी वी कमाल है
कल होर कोई नाल सी
अज्ज होर कोई

अरे चोरों की तरह
चोरी करके दौड़ने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

आए हन..

अरे भूलना तुम्हारे लिए
आम बात होगी
तुमको हुमारी बातें
कहाँ याद होगी

अरे भूलना तुम्हारे लिए
आम बात होगी
तुमको हुमारी बातें
कहाँ याद होगी

कहाँ याद होंगी जी
कहाँ याद होंगी

अरे नये नये चेहरों से
रोज़ नाते जोड़ने का

वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

तोड़ने का..

नज़र जी नज़र जी
किया करो क़दर जी
तेज़ तेज़ चलते हो
रखा करो सबर जी

नज़र जी नज़र जी
किया करो क़दर जी
तेज़ तेज़ चलते हो
रखा करो सबर जी

अरे इस्तेमाल करके
लोग पीछे छोडने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का
वा जी वाह क्या हुनर
है दिल तोड़ने का

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here