तोहफ़ा Tohfa Lyrics in Hindi – Vayu

तोहफ़ा Tohfa Lyrics in Hindi – Vayu

जब तेरे आस पास रहता हूँ मैं
दिन अच्छे जाते हैं
थपकीयाँ देती हैं जब बातें तेरी
नींद अच्छी आती है

मेरे हर दुख की डॉवा तू
मैं डोर तुझसे रहा क्यूँ
मेरा ही मुझको पता है
तेरा क्या है तू ही बता दे

मैं जानू ना के
तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ
क्यों उलझा हूँ

तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ
क्यों उलझा हूँ

हैं जो सिलसिले इनके सिले

आयेज हो क्या हम जानें ना
फिर भी जवाब ढूँढें तो क्यों

तू मुझसे मिले
हस्स के मिले हस्स के विदा
इसके साइवा हम कोई ख्वाब
ढूँढें तो क्या

कल क्या हो किसको पता
यून बैठे सोचें बेवजह क्यूँ
होना हैं जैसा भी
होगा तो वैसा ही
फिर भी कभी सोचता हूँ मैं की

तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ
क्यों उलझा हूँ

तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ
क्यों उलझा हूँ

Leave a Comment