Mohabat Lyrics In Hindi – Sucha Yaar

0
59

Mohabat Lyrics In Hindi – Sucha Yaar

Mohabat Lyrics In Hindi

तेरे नालों वध चीज़ कीमती
दस केहड़ी कोल सुच्चे यार दे
कड्ड ले कलेजा रुग भर नी
आके तू फरीदकोट मार दे

ऐन्ना ही जे गुस्सा मरजानिये
ऐन्ना ही जे गुस्सा मरजानिये
नी तू दिल क्यों नी मैनु कड्ड दी

दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी
दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी

महंगे हंजू तेरे जान मेरी सस्ती
पागले बहाया ऐवें कर ना

अक्खां लाल क्यों सी बेबे मैनु पुछदी
मैनु वी रोवाया ऐवें कर ना
अक्खां लाल क्यों सी बेबे मैनु पुछदी
मैनु वी रोवाया ऐवें कर ना

12 -1 वजे जदों रात दा
ओहतों बाद तेरे रोस्से खांदे वड्ड नी

दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी
दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी

दिन होया ना कोई होना ऐसा सोहनिए
होवे जेहड़ा तेरी याद बिना लंघेया

ओह जिवें मरदा कोई मंगे चंद साहां नु
तैनू ऐद्दां रब कोलों अस्सी मंगेया
ओह जिवें मरदा कोई मंगे चंद साहां नु
तैनू ऐद्दां रब कोलों अस्सी मंगेया

रोस्सेयां च ही ना जींद लंघ जे
बाझों मास ना कदर होवे हड्ड दी

दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी
दौर चल रेहा एह मौत दा
ते तू फेर वी लड़ाईयां नहिओ छड्ड दी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here