मेरा मुल्क मेरा देश – Mera Mulk Mera Desh Lyrics in Hindi

मेरा मुल्क मेरा देश – Mera Mulk Mera Desh Lyrics in Hindi

मेरा मुल्क, मेरा देश, मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
इसके वास्ते निसार है मेरा तन, मेरा मन
ऐ वतन, ऐ वतन, ऐ वतन
जानेमन जानेमन जानेमन
मेरा मुल्क मेरा देश…

इसकी मिट्टी से बने, तेरे मेरे ये बदन
इसकी धरती तेरे-मेरे वास्ते गगन
इसने ही सिखाया हमको जीने का चलन
इसके वास्ते निसार है…

अपने इस चमन को स्वर्ग हम बनायेंगे
कोना-कोना अपने देश का सजायेंगे
जश्न होगा ज़िन्दगी का होंगे सब मगन
इसके वास्ते निसार है…

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
इसके वास्ते निसार है मेरा तन, मेरा मन
ऐ वतन ऐ वतन ऐ वतन
जानेमन जानेमन जानेमन

कल के सारे वादे आज टूटने लगे
हाथ में जो हाथ थे, वो छूटने लगे
काश लौट आये पहले जैसा अपनापन
ऐ वतन…

Leave a Comment