मन की मुरादें पूरी कर माँ लिरिक्स – Man Ki Murade Puri Kar Maa Lyrics in Hindi

0
111

मन की मुरादें पूरी कर माँ लिरिक्स – Man Ki Murade Puri Kar Maa Lyrics in Hindi

मन की मुरादें पूरी कर माँ
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी

तेरा दीदार होगा, मेरा उद्धार होगा
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी

(संगीत)

तू है दाती दान देदे मुझको अपना जान कर
तू है दाती दान देदे मुझको अपना जान कर
भर दे मेरी झोली खाली दाग लगे ना तेरी शान पर

सवा रुपया और नारियल
मैं तेरी भेंट चढ़ाउंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी

तेरा दीदार होगा, माँ मेरा उद्धार होगा
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी

(संगीत)

छोटी छोटी कन्याओं को भोग लगाऊं भक्ति भाव से
छोटी छोटी कन्याओं को भोग लगाऊं भक्ति भाव से
तेरा जगराता कराऊं मैं तो बड़े चाव से

लाल ध्वजा लेकर के माता
तेरे भवन पे लहराऊंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी

मन की मुरादें पूरी कर माँ
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी माँ

(संगीत)

महिमा तेरी बड़ी निराली पार ना कोई पाया है
महिमा तेरी माँ बड़ी निराली पार ना कोई पाया है
मैंने सुना है, ब्रह्मा विष्णु शिव ने तेरा गुण गाया है

मेरी औकात क्या है, तेरी माँ बात क्या है
कैसे तुझ को भुलाउंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी

तेरा दीदार होगा, मेरा उद्धार होगा
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी

(संगीत)

लाल चोला लाल चुनरी, लाल तेरे लाल हैं
माँ लाल चोला लाल चुनरी, लाल ही तेरे लाल हैं
तेरी जिस पर हो दया माँ, वो तो मालामाल है

श्यामसुंदर और लक्खा बालक हैं तेरे
उनको भी संग में मैं लाउंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी

माँ तेरा दीदार होगा, मेरा उद्धार होगा
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी

दर्शन करने को मैं तो आऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी
दर्शन करने को मैं तो आऊंगी
हलवे का भोग मैं लगाऊंगी माँ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here