तीन पेग 3 Peg Punjabi Song Lyrics In Hindi – 3 Peg Lyrics in Hindi

0
292

तीन पेग 3 Peg Punjabi Song Lyrics In Hindi – 3 Peg Lyrics in Hindi

[सानु औंदा नि प्यार नाप टोल के
कंडा कड्डी दा स्पीकरां ते बोल के] x 2

ले के जुटती थल्ले ज़िन्दगी दे भोज नु
यार लुटदे ने मौजां दिल खोल के

[नि लाके 3 पेग बल्लिये
पह्न्दे भंगरे गद्दी दी दिग्गी खोल के] x 2

रेहन सीट ठल्ले नाच्दियाँ बोतलां
4 रखिदे गिलास विच कच दे
आदि पक्केयाँ दे नाल रूह्दारियां
रंग भांडे रिकार्ड देसी कच दे

मस्सां वखरा ही छडगी माशूक दा
ओहना यारां ना पिदी दी दुःख बोल के

[नि लाके 3 पेग बल्लिये
पह्न्दे भंगरे गद्दी दी दिग्गी खोल के] x 2

माना बुलेट पुराना ना तू वेचेया
नाले शोंक नाल राखियाँ ने गड्डियां
यार सारे ही मलंग छड़े छंट ने
कुझ छड गयी यां कई अप्पन छडीयां

कड़े ख़ुशी डा बहाना रविराज ओये
कड़े पीने आ दारू च ग़म घोल के

[नि लाके 3 पेग बल्लिये
पह्न्दे भंगरे गद्दी दी दिग्गी खोल के] x 3

ना ही लडड दे ते ना ही कड़े डर दे
ना ही लडड दे..
ना ही लडड दे ते ना ही कड़े डर दे
कोई जान जान वाटे घूरियां
कोई जान जान वाटे घूरियां
ओहदे कण ते चपडा तीन धरदे

हाँ यारां नाल सजा के महफ़िलां
हाँ यारां नाल सजा के महफ़िलां
अन्मुल्ले ने समय नु कैश करदे

यारा अमेरिका वालेय
ओ यारा ओये कनाडा वालेय
इक घड़ा स्पोंसर करदे
तू यारा कनाडा वालेय
इक घड़ा स्पोंसर करदे

[नि लाके 3 पेग बल्लिये
पह्न्दे भंगरे गद्दी दी दिग्गी खोल के] x 2

पेग बल्लिये मिस्ता बाज़
पेग बल्लिये..
पह्न्दे भंगरे गद्दी दी दिग्गी खोल के..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here