अवध मां होली खेलैं रघुवीरा lyrics | होली के पौराणिक लोकगीत

0
42

अवध मां होली खेलैं रघुवीरा lyrics | होली के पौराणिक लोकगीत

ओ केकरे हाथ ढोलक भल सोहै,

केकरे हाथे मंजीरा।

राम के हाथ ढोलक भल सोहै,

लछिमन हाथे मंजीरा।

ए केकरे हाथ कनक पिचकारी

ए केकरे हाथे अबीरा।

ए भरत के हाथ कनक

पिचकारी शत्रुघन हाथे अबीरा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here